Press release on the occasion of Veer Bal Diwas.

 

1.gif

Public Relations Section                                                                                                     Phone: 03592-202410

                                                                                                                                                 Fax: 03592- 202742

 

RAJ BHAVAN

GANGTOK, SIKKIM

 

प्रेस विज्ञप्ति

राजभवन :दिनांक 26.12.2022

आज मेजर ध्यानचंद राष्ट्रीय स्टेडियम में माननीय  प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी  जी की पहल में  साहिबजादों की कुर्बानी पर  समर्पित पहला वीर बाल दिवस ​​के ऐतिहासिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया|  9 जनवरी 2022 को, श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व के दिनमाननीय प्रधान मंत्री ने घोषणा की थी कि 26 दिसंबर को श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के साहिबजादे  की शहादत को वीर बाल दिवस के रूप में मनाया जाएगा।  इस मौके पर पीएम मोदी ने वीर साहिबजादों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए  26 दिसंबर के दिन को वीर बाल दिवस के तौर पर घोषित किया | इस महत्वपूर्ण अवसर पर बाबा जोरावर सिंह जी व बाबा फतेह सिंह जी के धर्म की रक्षा के लिए सर्वोच्च बलिदान को याद करते हुए पूरा देश श्रद्धा से वीर बाल दिवस मना रहा है | दिल्ली में करीब तीन हजार बच्चों ने मार्च पोस्ट किया व बाल कीर्तनियों द्वारा शबद गायन किया गया

अपने सम्बोधन में माननीय प्रधानमंत्री ने कहा, साहिबजादों ने इतना बड़ा बलिदान और त्याग किया, अपना जीवन न्यौछावर कर दिया, लेकिन इतनी बड़ी शौर्यगाथा को भुला दिया गया। लेकिन अब नया भारत दशकों पहले हुई एक पुरानी भूल को सुधार रहा है। हम आजादी के अमृत महोत्सव में देश के स्वाधीनता संग्राम के इतिहास को पुनर्जीवित करने का प्रयास कर रहे हैं। स्वाधीनता सेनानियों, वीरांगनाओं, आदिवासी समाज के योगदान को जन जन तक पहुंचाने के लिए हम काम कर रहे हैं।

इस ऐतिहासिक अवसर पर सिक्किम के माननीय राज्यपाल श्री गंगा प्रसाद ने  वीर साहिबजादों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा राष्ट्र, धर्म और मानवता की रक्षा करते हुए प्राणों को न्योछावर करने वाले गुरु गोविंद सिंह जी के साहिबजादों एवं माता गुजरी जी के सर्वोच्च बलिदान प्रति समर्पित वीर बाल दिवस पर उन्हें शत शत नमन।
वीरतापूर्वक धर्म की रक्षा करने के लिए उनकी धैर्य और शौर्य की गाथा वीर बाल दिवस हमें सदा प्रोत्साहित करता रहेगा।