Honorable Governor chairs a review meeting on successful trial on saffron cultivation.

 

1.gif

Public Relations Section                                                                                        Phone: 03592-202410

                                                                                                                                     Fax: 03592- 202742

 

RAJ BHAVAN

GANGTOK, SIKKIM

 

(प्रेस विज्ञप्ति)

                                                                                                                                                                                                            

राजभवन , गंगटोक 30.10.222 (राजभवन)

 

सिक्किम मे केसर खेती के सफल परीक्षण पर प्रस्तुति कार्यक्रम का आयोजन आज राजभवन के सभागार में आयोजित किया गया जिसमें सिक्किम के माननीय राज्यपाल श्री गंगा प्रसाद के साथ सिक्किम सरकार के कृषि एवं बागवानी मंत्री श्री लोकनाथ शर्मा, सिक्किम विश्वविद्यालय के उप कुलपति श्री अविनाश खरे,सिक्किम विश्वविद्यालय संकाय, कृषि और बागवानी विभाग के अधिकारियों की उपस्थिति रही।


कार्यक्रम का आरंभ सिक्किम विश्वविद्यालय के उपकुलपति ने केसर के सफल परीक्षण पर प्रकाश डालते हुए माननीय राज्यपाल के प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल महोदय की इस दिशा में भूमिका पिता तुल्य रही है, माननीय राज्यपाल की व्यक्तिगत रुचि में कई उच्च स्तरीय बैठक रखी गईं। उनका प्रोत्साहन एवं सहयोग उल्लेखनीय है इसी प्रकार उन्होंने राज्य सरकार जिसका कुशल नेतृत्व माननीय मुख्यमंत्री श्री प्रेम सिंह तमांग कर रहे हैं, उनका  भी आभार प्रकट किया जिनके अपार सहयोग से केसर की खेती की जो संभावना सिक्किम में थी, आज सफलता प्राप्त कर चुकी है।  इसी तरह बागवानी एवं कृषि विभाग के मंत्री श्री लोक नाथ शर्मा का भी अधिक आभार व्यक्त किया जिन्होंने व्यक्तित्व रूप से इस क्षेत्र  में आगे बढ़कर  इस परियोजना को सफल बनाया है।


इसी कड़ी में, सिक्किम विश्वविद्यालय के प्रोफेसर शांति स्वरूप शर्मा ने केसर खेती की विकास यात्रा की विस्तृत जानकारी दी। सिक्किम के विभिन्न क्षेत्रों से आए किसान भाइयों द्वारा केसर खेती के संबंध में अपने अपने अनुभव साझा किया।


इस दौरान केसर खेती से  संबंधित किसानों को सम्मानित करते हुए प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।
कार्यक्रम के अन्तर्गत सिक्किम सरकार के माननीय कृषि एवं बागवानी मंत्री श्री लोकनाथ शर्मा ने  राज्यपाल महोदय का  कृषक को आगे बढ़ाने में योगदान अतुलनीय बताते हुए कहा कि राज्यपाल महोदय की इस क्षेत्र  में  असीम दिलचस्पी से इस क्षेत्र को आगे बढ़ाया जा सका है। उन्होंने कहा कि सिक्किम मे केसर की खेती  को इतिहास के पन्नों में शामिल किया जाएगा। साथ ही देश की जीडीपी में भी बढ़ोतरी की बात कही।अंत में माननीय राज्यपाल महोदय ने वर्तमान में इसके जो सकारात्मक परिणाम प्राप्त हुए हैं, हमारे लिए  एक SUCCESS STORY है। जो  हमें कड़ी मेहनत और लगन के कारण प्राप्त हुई है।


उन्होंने कहा कि किसी भी काम को पूरा अंजाम देने के लिए निरंतरता देना बहुत आवश्यक है।
कृषि सदा से ही मेरा चिंतन का विषय रहा है। जब मैं गाँव में जाकर ग्रामीणों से मिलता हूँ, उनकी समस्याओं से अवगत होता हूँ, सिक्किम की अर्थव्यवस्था से परिचित होता हूँ। मुझे सदा ही लगता है कि ग्राम की मजबूत अर्थव्यवस्था से ही राज्य और देश की आर्थिक वृद्धि होगी। साथ ही नव युवाओ को रोजगार उपलब्ध होगा। सिक्किम मे केसर खेती की  यात्रा अति महत्वपूर्ण मील का पत्थर साबित हुआ है। इससे केवल किसानों की आय में वृद्धि होगी बल्कि जम्मू कश्मीर के साथ मधुर संबंध स्थापित होंगे। शोध के नए द्वार खुलेंगे। इससे रोजगार भी बढ़ेगा और राज्य की अर्थव्यवस्था से देश की आर्थिक स्थिति को भी बढ़ावा मिलेगा।  उन्होंने उपस्थित कृषक भाइयों की भूरि भूरि प्रशंसा की।


संबंधित अधिकारियों से आह्वान किया गया कि किसानों को नई तकनीकों से अवगत कराते हुए कार्यस्थलों पर जाए और उनसे मिलकर कार्य करें। माननीय राज्यपाल ने  उत्तर पूर्वी परिषद की  बैठक में केंद्र सरकार को इस क्षेत्र में सहयोग एवं बढावा देने की मांग  रखने का भी उल्लेख किया।